Thursday, April 24, 2014

नान मनिक्कडिककै-chain of four gems-चार रत्नों की कड़ियाँ

no sleep to them who are thinking to steal others goods.

no sleep to them who are thinking about his lover .

no sleep to them who are willing to earn fame and name.

no sleep to them who are only to think to protect their wealth.

naan manikkadikai --vilambinaakanaar,

 नींद नहीं  उनको जो  चोर्री करने की चिंता में हैं.

नींद नहीं  उनको जो प्रेमी के बारे में ही याद करते हैं.

नींद नहीं उनको जो धन यश  कमाने की अभिलषा में चिंता-मग्न रहते हैं;

नींद नहीं  उनको  जो अपनी धन की सुरक्षा के ख्याल रखते हैं.
विलाम्बिनागनार  कृत नान मनिक्कडिकै-चार रत्नों की कड़ियाँ.

கள்வமென்பார்க்கு ந்  துயிலில்லை,காதலிமாட்
துள்ளம் வைப் பார்க்குந் துயிலில்லை யொன்பொருள்
செய்வ மென்பார்க்குந் துயிலில்லை யப்பொருள்
காப்பர்க்குந்துயிலில்லை.---நான் மணிக்கடிகை -கவி -விளம்பிநாகனார்.
Post a Comment