Sunday, July 24, 2016

देश प्रधान

तन दें  मन दें धन दें 
देश के लिए 
समाज के लिए
जाति धर्म के लिए
मानव की रक्षा के लिए
आजादी  के लिए
पर  आजादी  के बाद
स्वार्थ  सिद्ध के लिए
लोभ  लालच भय
चालाकी से घूस से
कानून  के भय दिखाकर
गैर कानूनी तरीके से
माफिया दादा के बल से।
कुर्सी पकडना हो गया लक्ष्य
कुली सेना का
प्रोत्साहन
आत्म हत्या सेना
वाहन  चालाक द्वारा हत्या
न जाने देश किसी दैविक शक्ति
द्वारा  बचाया जा रहा है़।
Post a Comment